उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

नाराज राशन डीलरों ने किया तहसील परिसर में धरना-प्रदर्शन
नाराज राशन डीलरों ने किया तहसील परिसर में धरना-प्रदर्शन

विकासनगर। दो वर्षों से बकया राशन ढुलान का भाड़ा भुगतान नहीं होने से गुस्साए राशन डीलरों ने तहसील परिसर में धरना-प्रदर्शन किया। राशन डीलरों ने विभागीय अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर आक्रोश जताया। उन्होंने भाड़ा भुगतान न होने तक अनिश्चितकालीन हड़ताल और धरना प्रदर्शन की चेतवानी दी है।

    सोमवार सुबह जौनसार बावर जनजाति सस्ता गल्ला एसोसिएशन के बैनर तले तहसील परिसर में एकत्र हुए राशन डीलरों ने बकाया भुगतान को लेकर धरना प्रदर्शन किया। राशन डीलरों ने खाद्य एवं नागरिक पूर्ति विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। एसोसिएशन अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि खाद्य एवं नागरिक पूर्ति विभाग के कालसी, कोरवा, चकराता, लाखामंडल, सावड़ा, त्यूणी और अटाल में सात सरकारी खाद्य गोदाम हैं। इन खाद्य गोदाम से जौनसार-बावर के करीब 275 स्थानीय डीलर जुड़े हैं। जिन्हें विभाग ने पिछले दो वर्षों से नियमित भाड़ा नहीं दिया है।

      विभाग ने कोरोनाकाल में लाकडाउन के समय दूर-दराज के ग्रामीण इलाकों में राशन वितरण का आठ माह का बकाया ढुलान भाड़ा और इस बार मई से लेकर अगस्त तक के राशन ढुलान भाड़ा का भुगतान भी नहीं किया है। इससे डीलरों के साथ आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। बताया कि एसोसिएशन के बार-बार शिकायत करने पर भी विभाग इस पर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। जिसे अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जब तक राशन डीलरों का लंबित बकाया भाड़ा भुगतान नहीं होता, तब तक अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन किया जाएगा।

    इस मौके पर गुलाब सिंह नेगी, भागीराम चौहान, गीता सिंह, गीताराम चौहान, महिपाल सिंह, खुशीराम डोभाल, सुरेन्द्र सिंह, राम सिंह रावत, दिनेश पंवार, राम सिंह, दलिया, जीतराम, शमशेर सिंह, जयपाल सिंह, सुंदर सिंह, जनक सिंह, महेन्द्र सिंह, आशु गुप्ता आदि डीलर मौजूद रहे।

Share this story