उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

गुलदार के शावकों को पकड़ने के लिए लगाया पिंजरा
Leopard

ऋषिकेश। आतंक का पर्याय बनी मादा गुलदार के पिंजरे में कैद होने के बाद वन विभाग ने उसके तीन बच्चों (शावकों) को पकड़ने की कवायद तेज कर दी है। इसके लिए गुलजार फार्म में गन्ने के खेत में पिंजरा लगाया है।

   ग्रामसभा खदरी खड़कमाफ में पिछले काफी समय से सक्रिय गुलदार के शुक्रवार शाम पिंजरे में कैद होने के बाद खौफजदा ग्रामीणों को राहत मिली है। मादा गुलदार के साथ उसके नन्हें शावक भी थे, जिन्हें पकड़ने के लिए वन विभाग ने कार्रवाई शुरू कर दी है। ग्राम सुरक्षा समिति के अध्यक्ष शांति प्रसाद थपलियाल, पर्यावरणविद् विनोद जुगलान, पूर्व प्रधान सरोप सिंह पुंडीर ने बताया कि गुलजार फार्म में गन्ने के खेत के आसपास वनकर्मियों ने शनिवार को सघन गश्त की। यहां गुलदार के निवाला बने कुत्तों के अवशेष मिले, जिसमें से दुर्गंध आ रही थी। शावकों की तलाशी में सफलता नहीं मिली।

    लिहाजा वन विभाग ने गन्ने के खेत के बीच में शावकों को पकड़ने के लिए पिंजरा लगा दिया है। वन क्षेत्राधिकारी महेंद्र सिंह रावत ने बताया कि मादा गुलदार के शावकों को पकड़ने के लिए गांव में गश्त बढ़ा दी है। सशस्त्र वनकर्मी गुलजार फार्म में गन्ने के खेत और आसपास क्षेत्र में सघन कांबिंग कर रहे हैं। पिंजरा भी लगा दिया है। मौके पर वनबीट अधिकारी राजेश बहुगुणा, बीडीसी श्रीकांत रतूड़ी, विनोद चौहान, बृजपाल चौधरी, मनोज कुमार भोला, वीरेन्द्र रयाल, सूर्य प्रकाश, बबलू चौहान मौजूद रहे।

Share this story