उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

पेट्रोल पंप का लाइसेंस दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी
Uttarakhand Herald

हरिद्वार। पेट्रोल पंप का लाइसेंस दिलाने के नाम पर फर्जी पेट्रोलियम अधिकारी बनकर आरोपी ने 5 लाख रुपये बुजुर्ग से ठग लिए। पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

      पुलिस के मुताबिक कनखल लाटोवाली निवासी बुजुर्ग सुधीर गुप्ता ने शिकायत में बताया कि हरिगंगा अपार्टमेंट हरिद्वार दिल्ली हाईवे पर उनका कार्यालय है। उनकी पहचान ओमवीर सिंह पुत्र विजय प्रकाश सिंह निवासी सी- 605, रघुनाथ रेजीडेंसी, बहादराबाद से हुई थी। बुजुर्ग को पेट्रोल पंप के लाइसेंस की आवश्यकता थी। आरोप है कि ओमवीर सिंह ने खुद को मंत्रालय में अधिकारी बताया और बुजुर्ग को आश्वस्त किया कि वह पेट्रोल पंप का लाइसेंस दिला देंगा।

   आरोप है कि ओमवीर ने भारत सरकार की मोहर वाले दस्तावेज भी दिखाये। आरोप है कि लाइसेंस दिलाने की एवज में आरोपी ने 5 लाख रुपये भी लिए। जब लाइसेंस नहीं मिला तो बुजुर्ग ने आरोपी के बारे पेट्रोलियम मंत्रालय में पूछताछ की। मालूम हुआ कि ओमवीर का मंत्रालय से कोई संबंध नहीं है। ठगी का पता चलने पर मामले की शिकायत शहर कोतवाली पुलिस से की गई। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। कोर्ट के आदेश आने के बाद पुलिस ने आरोपी ओमवीर सिंह के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। बुजुर्ग प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते हैं। इसकी पुष्टि शहर कोतवाल अमरजीत सिंह ने की है।

Share this story