उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

हिमालय को हिन्दू तीर्थ स्थल घोषित कर गैर हिन्दुओं के प्रवेश पर रोक लगायी जाए: स्वामी आनन्द स्वरूप
चारधाम यात्रा शुरू करने की मांग भी की

हरिद्वार। शाम्भवी धाम के परमाध्यक्ष स्वामी आनन्द स्वरूप महाराज ने प्रदेश सरकार से हिमालय को हिन्दू तीर्थ स्थल घोषित कर गैर हिन्दुओं के प्रवेश पर रोक लगाने की मांग की है। पत्रकारों से वार्ता करते हुए स्वामी आनन्द स्वरूप महाराज ने कहा कि सरकार को जल्द से जल्द अध्यादेश जारी कर हिमालय को तीर्थ क्षेत्र घोषित करना चाहिए और गैर हिन्दुओं के हिमालय क्षेत्र मे प्रवेश पर रोक लगानी चाहिए। यदि सरकार ऐसा नहीं करती है तो विधानसभा चुनाव में भाजपा का विरोध किया जाएगा।

     उन्होंने चारधाम यात्रा भी जल्द से जल्द शुरू करने की मांग की। पत्रकारों से वार्ता करते हुए स्वामी आनन्द स्वरूप महाराज ने कहा कि हिमालय हिन्दुओं की साधना स्थली और देश की आध्यात्मिक राजधानी है। हिमालय में गैर हिन्दुओं की गतिविधियां बढऩा चिंताजनक है। इसलिए सरकार को पूरे हिमालय क्षेत्र को तीर्थ घोषित कर गैर हिन्दुओं के प्रवेश पर रोक लगानी चाहिए। संत समाज को भी एकजुट होकर इस संबंध में आवाज उठानी चाहिए। देवभूमि में धर्मांतरण पर भी पूरी तरह रोक लगायी जाए।

      उन्होंने कहा कि हिमालय को तीर्थ घोषित करने के लिए वे लंबे समय से आवाज उठाते रहे हैं। हाल ही में संपन्न हुए कुंभ मेले में उन्होंने इस मांग को उठाया था। सरकार को जल्द से जल्द हिन्दु जनभावनाओं के अनुरूप निर्णय लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा को भी जल्द संचालित किया जाना चाहिए। चारधाम यात्रा हिन्दुओं की आस्था के विषय के साथ लाखों लोगों के लिए जीविकोपार्जन का साधन भी है। एक लोकतांत्रिक देश में हिंदू अपने आराध्य का दर्शन नहीं कर पा रहे हैं। जबकि चुनावी रैलियों में खूब भीड़ उमड़ रही है। लेकिन कोरोना के नाम पर चारधाम यात्रा रोक लगा दी गयी। सरकार को चारधाम यात्रा संचालित करने के लिए अदालत में प्रभावी रूप से पैरवी करनी चाहिए। 

Share this story