उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

जिलाधिकारी ने पोषण आहार तथा आत्म रक्षा प्रशिक्षण की दो दिवसीय कार्यशाला शुभारम्भ किया
 बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ

पौड़ी। जिलाधिकारी डॉ0 विजय कुमार जोगदण्डे की अध्यक्षता में बालिका इंटर कॉलेज पौड़ी में आज महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग पौड़ी के तत्वाधान में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के अंतर्गत पोषण अभियान, वाहिनी आत्म रक्षा परीक्षण तथा स्वास्थ्य सुरक्षा की दो दिवसीय कार्यशाला शुभारम्भ किया गया।

       जिलाधिकारी ने वहां उपस्थित बालिकाओं को सही पोषण आहार तथा आत्म रक्षा प्रशिक्षण की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बालिका हर क्षेत्र में बालिकाओं से आगे हैं। कहा कि शिक्षा के साथ-साथ अन्य गतिविधियों में भी हिस्सा लेना चाहिए, जिससे ज्यादा अभुभव प्राप्त हो सकेगा। इस दौरान जिलाधिकारी बालिकाओं से रूबरू होते हुए कहा कि हर क्षेत्र में आगे बढ़ना है तो उसके लिए मेहनत व लगन जरूरी है। कहा कि आत्म निर्भर बनने के लिए सही पोषण का उपयोग करना अनिवार्य है, जिससे स्वास्थ्य के साथ के साथ शरीर मजबूत बन सकेगा। जिलाधिकारी ने प्रधानाचार्य को निर्देशित किया कि बालक-बालिकाओं को भविष्य में कुछ बनना है तो उसके लिए समय समय पर उन्हें हर क्षेत्र की जानकारी दे, जिससे वह उसकी ओर फोकस कर सकेंगे। साथ ही उन्होंने निर्देशित किया कि एक सप्ताह तक आत्म रक्षा के गुर बालिकाओं को सिखाएं। आयोजित प्रशिक्षण में पुलिस महिला कर्मियों द्वारा बालिकाओं को आत्म रक्षा के विभिन्न गुर सिखाए गए।

जिलाधिकारी ने पोषण आहार तथा आत्म रक्षा प्रशिक्षण की दो दिवसीय कार्यशाला शुभारम्भ किया      जिलाधिकारी डॉ0 जोगदण्डे ने आयोजित कार्यक्रम में बालिकाओं को खान-पान में सभी पोषक तत्वों को शामिल करने की बात कही। साथ ही उन्होंने कहा कि बालिकाओ को महिला सशक्तिकरण व शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढे तथा पढ़ाई का समय निर्धारित कर पठन-पाठन करें, जिससे सफलता हांसिल कर सकोगे। कहा कि अपनी सुरक्षा हेतु आत्म रक्षा के गुर सीखना जरूरी है, जिससे बालिकाएं अपनी सुरक्षा स्वयं कर सकते हैं। कहा कि जनपद के समस्त विकासखण्डों में बालिकाओं को आत्म रक्षा के गुर सिखाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि बालिकाएंे स्वास्थ्य,शिक्षा व शारीरिक दक्षता के लिए जितना जागरूक रहेंगे देश उतना ही आगे बढ़ेगा। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि बालिकाओं को आत्म रक्षा के विभिन्न गुर सिखाएं,  जिससे वह अन्य लोगों को भी प्रशिक्षित कर सकेंगे।

    स्वास्थ्य विभाग से डॉ0 रश्मि ने बालिकाओं को सही समय व सही पोषक तत्वों को लेकर विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि खाने खाने से पूर्व हाथों को अच्छी तरह धुलना है, जिससे कीटाणु शरीर के अंदर ना जाएं। कहा कि मानसिक स्वास्थ्य को बनाये रखे। उन्होंने किशोर अवस्था के दौरान आने वाले शारीरिक व मानसिक बदलाव के समय सावधानी बरतने की सलाह दी। उन्होंने संतुलित आहार लेने, खेलकूद, व्यायाम करने पर जोर दिया।

    इस अवसर पर बाल विकास अधिकारी जितेंद्र कुमार, प्रधानाचार्य ममता काला, महिला कल्याण अधिकारी प्रज्ञा नैथानी, जिला समन्वयक बीना रावत, महिला पुलिस कर्मी नीता व गीता सहित बालिकाएं उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन रमन रावत पोली ने किया।

Share this story