उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

चुनाव आयोग ने थमाया बागेश्वर विधायक को नोटिस
HERALD
दास पर आरोप है कि उन्होंने अपने विधानसभा क्षेत्र के अणां गांव में जाकर भीड़ एकत्र की। उन्होंने इस दौरान कोविड नियमावली का उल्लंघन करने के साथ ही वहां लोगों को कंबल बांटे। इस पर रिटर्निंग अधिकारी ने उन्हें नोटिस भेजा है।

बागेश्वर। चुनाव आचार संहिता लगते ही बागेश्वर विधायक चंदनराम दास को चुनाव आयोग ने नोटिस भेजा है। दास पर आरोप है कि उन्होंने अपने विधानसभा क्षेत्र के अणां गांव में जाकर भीड़ एकत्र की। उन्होंने इस दौरान कोविड नियमावली का उल्लंघन करने के साथ ही वहां लोगों को कंबल बांटे। इस पर रिटर्निंग अधिकारी ने उन्हें नोटिस भेजा है।

       कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री बालकृष्ण ने जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी को दिए शिकायती पत्र में कहा था कि भाजपा विधायक दास ने चुनाव आचार संहिता लगने के बाद गरुड़ विकासखंड के अणां गांव में सार्वजनिक रूप से भीड़ जुटाई तथा कोविड नियमावली का उल्लंघन किया। आरोप लगाया कि भाजपा विधायक दास ने वहां लोगों को हारमोनियम, ढोलक आदि उपकरण भी बांटे। कहा कि आदर्श आचार संहिता लगने के बाद इस तरह का कृत्य आचार संहिता का उल्लंघन है। इस पर जिला निर्वाचन अधिकारी/डीएम विनीत कुमार ने इस संबंध में रिटर्निंग अधिकारी/उप जिलाधिकारी हरगिरी को कार्रवाई के आदेश दिए। रिटर्निंग अधिकारी हरगिरी ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद विधायक दास को आचार संहिता के उल्लंघन का नोटिस भेजा है, नोटिस के जवाब का इंतजार है।

शिकायत की दिनांक में साल गलत लिख बैठे बालकृष्ण
       विधायक दास के अणां गांव में आयोजित सार्वजनिक समारोह की शिकायत करने में कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री बालकृष्ण तकनीकी चूक गए। उन्होंने जल्दबाजी में शिकायत में विधायक दास की शिकायत करने पर दिनांक 9 जनवरी 2021 लिख दिया, जबकि वे शिकायत वर्ष 2022 में कर रहे थे। इसे ही विधायक दास ने पकड़ लिया और कहा कि नोटिस का जवाब दिया जाएगा। साथ ही कहा कि विरोधी पक्ष की यह शिकायत वर्ष 2021 की है, तब हो सकता है कि वे उस दिन अणां गांव में होंगे, परंतु तब आदर्श आचार संहिता नहीं लगी हुई थी।

Share this story