उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

लिखित आश्वासन के बाद तोड़ा अनशन
लिखित आश्वासन के बाद तोड़ा अनशन 

बागेश्वर। बागेश्वर में सडक़ कटिंग का मुआवजा जल्द देने के लिखित आश्वासन के बाद प्रदेश महामंत्री समेत काश्तकारों ने अपना अनशन तोड़ दिया है। उन्हें जूस पिलाकर अनशन से उठाया।

      यहां हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि यदि समय पर उन्हें मुआवजा नहीं मिला तो वे दोबारा आमरण अशन करेंगे। मालूम हो कि सडक़ कटने के बाद मुआवजा नहीं मिलने पर कांग्रेस नेता बालकृष्ण, 82 साल के हयात राम, महेश राम समेत अन्य किसान आमरण अनशन पर बैठ गए। इस बात की भनक जब विभाग को लगी तो वे उन्हें मनाने पहुंच गए। देर रात विभाग के लिखित आश्वासन के बाद उन्हें अनशन से उठाया गया।

      वक्ताओं ने बताया कि 15 साल पहले पगना मोटर मार्ग और सात रतबे मोटर मार्ग में उनकी भूमि कटी। अब सडक़ बनकर तैयार हो गई है, लेकिन उन्हें अभी तक मुआवजा तक नहीं मिल पाया है। इस मौके पर बहादुर बिष्ट, महेश पंत, अर्जुन देव, रमेश चंद्र आदि मौजूद रहे।

Share this story