उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

एकजुट होकर लडऩी होगी एनएच के खिलाफ लड़ाई
एकजुट होकर लडऩी होगी एनएच के खिलाफ लड़ाई

रुद्रप्रयाग। एनएच की मनमानी के खिलाफ भारतीय किसान सभा एवं स्थानीय ग्रामीणों का धरना मैखंडा में दसवें दिन भी जारी भी रहा। इस दौरान किसान सभा के प्रदेश अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह सहित कई पदाधिकारियों ने धरने को समर्थन दिया। इधर, किसान सभा के कार्यकर्ताओं और स्थानीय लोगों ने उपजी समस्याओं पर शीघ्र कार्रवाई करने को कहा।

      गुरुवार को भी अखिल भारतीय किसान सभा के बैनर तले क्षेत्रीय ग्रामीण मैखंडा में एकत्रित हुए, जिसके बाद एनएच की मनमानी को लेकर चल रहे धरने पर बैठ गए। दसवें दिन धरने पर पहुंचे किसान सभा के प्रदेश अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि एनएच द्वारा लोगों की निजी संपत्ति व सार्वजनिक संपत्ति को क्षति पहुंचाई गई है। अभी तक लोगों के आवासीय भवन व गौशालाओं का मुआवजे का भुगतान नहीं किया गया है। ग्रामीणों के क्षतिग्रस्त पैदल मार्ग व पेयजल योजनाएं एक वर्ष बीतने के बाद भी ठीक नहीं की गई है।

      इस दौरान ग्रामीणों ने कहा कि कई लोगों के आवासीय भवन क्षतिग्रस्त होने से उन्होंने दूसरे लोगों के घर में शरण ली है। एनएच की ओर से नियमों को ताक पर निर्माण कार्य किए जा रहे है। जिसे किसी भी सूरत में बर्दास्त नहीं किया जाएगा।

      इस अवसर पर किसान सभा के प्रान्तीय महामंत्री गंगाधर नौटियाल, कोषाध्यक्ष शिव प्रसाद देवली ने भी अपने विचार रखे। धरने में प्रदेश उपाध्यक्ष राजाराम सेमवाल, जिलाध्यक्ष दौलत सिंह, सीटू मंत्री वीरेन्द्र गोस्वामी, अषाड सिंह, विक्रम लाल, दामोदर प्रसाद, गजपाल लाल, सुमित अग्रवाल, प्रेम सिंह, समेत कई कार्यकर्ता व ग्रामीण मौजूद थे।

Share this story