उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

ई-पास की बाध्यता को समाप्त करने को चक्काजाम किया
ई-पास की बाध्यता को समाप्त करने को चक्काजाम किया

रुद्रप्रयाग। होटल एसोसिएशन केदारघाटी द्वारा शनिवार को केदारनाथ हाईवे पर कुंड में चक्काजाम किया गया। ई-पास की बाध्यता को समाप्त करने को लेकर कुंड में यात्रियों के साथ करीब ढाई घण्टे तक जाम लगाया। जिसके बाद प्रशासन द्वारा कड़ी मशक्कत के बाद वार्ता कर आवाजाही सुचारु की गई।

         शनिवार को केदारघाटी एसोसिएशन द्वारा केदारनाथ जाने के लिए यात्रियों की संख्या बढ़ाने, ई पास की बाध्यता समाप्त करने व यात्रियों को त्रियुगीनारायण, कालीमठ, विश्वनाथ मंदिर के दर्शनों को न रोके जाने की मांग को लेकर चक्काजाम किया गया। जिसके बाद बिना ई पास के केदारनाथ की ओर जाने वाले सैकड़ों यात्री सड़क पर बैठ गए। इस दौरान लोगों ने प्रदेश सरकार व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कुंड में बैरियर लगाकर प्रतिदिन पुलिस द्वारा धाम की ओर जा रहे यात्रियों के ई पास चेक किए जा रहे हैं और बिना पास के यात्रियों को वापस भेज जा रहा है।

        इस दौरान रुद्रप्रयाग, ऊखीमठ, गुप्तकाशी की ओर जाने वाले स्थानीय लोगों व ई पास के साथ पहुंचे यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जिसके बाद एसडीएम जितेंद्र वर्मा ने लोगों से वार्ता की,उन्होंने कहा कि ई पास के साथ 800 श्रद्धालु ही एक दिन में दर्शन कर सकते हैं। जिसके बाद काफी देर तक वार्ता के बाद आवाजाही सुचारू हो पायी। इस मौके पर पहुँचे जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुमन्त तिवारी ने कहा यात्रियों की सीमित संख्या के चलते स्थानीय व्यवसायी, होटल, लॉज, घोड़ा, खच्चर, डंडी कंडी संचालकों रोजगार नहीं मिल पा रहा है, केदारघाटी के लोगों की आजीविका यात्रा से जुड़ी है इसलिए यात्रियों की संख्या बढ़ाई जाए। होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रेमदत्त गोस्वामी ने कहा कि केदारनाथ यात्रा के लिए ई पास की बाध्यता को समाप्त किया जाना चाहिए।

        इस मौके पर जिपं उपाध्यक्ष सुमन्त तिवारी, व्यापार मंडल जिलाध्यक्ष अंकुर खन्ना, उपाध्यक्ष प्रमोद नौटियाल, शत्रुघन सिंह नेगी, सचिव नितिन जमलोकी, अंकित राणा, अंकित सैनी आदि थे। एसओ रविन्द्र कौशल भी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे।

Share this story