उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

फर्जी बाबा की निशानदेही पर पुलिस ने किए 72 लाख के जेवर बरामद
Uttarakhand Herald

ऋषिकेश। ज्वेलर्स की पत्नी के उपचार के नाम ठगी करने वाले फर्जी बाबा प्रियव्रत अनिमेश उर्फ महेंद्र रोड उर्फ रोबिन खलीफा की निशानदेही पर पुलिस ने 72 लाख रुपये मूल्य के जेवर बरामद किए हैं। इससे पहले आरोपित की गिरफ्तारी वाले दिन नौ लाख रुपये के जेवर बरामद किए गए थे।

     पुलिस ने आरोपित का तीन दिन का रिमांड लिया था, जो रविवार को पूरा हो गया। इसी 10 जुलाई को पंवार ज्वेलर्स के संचालक हितेंद्र सिंह पंवार ने कोतवाली में आजाद नगर पानीपत हरियाणा निवासी प्रियव्रत अनिमेश के खिलाफ ठगी का मुकदमा दर्ज कराया था। वह यहां संत के भेष में लालतप्पड़ स्थित नेचर विला में किराये का फ्लैट लेकर रह रहा था। आरोप है कि उसने ज्वेलर्स की पत्नी का मानसिक इलाज करने का झांसा देकर वर्ष 2019 में जेवरात और नकदी ठगनी शुरू की, जो अब भी जारी थी। हालिया दिनों में स्टाक मिलान करने पर ज्वेलर्स को इसका पता चला। तब पत्नी ने सारी हकीकत बताई।

      आरोप है कि फर्जी बाबा ने ज्वेलर्स की पत्नी से रुद्राक्ष की माला, सोने का ब्रेसलेट, रुद्राक्ष का ब्रेसलेट, सोने की माला, सोने की चार अंगूठी, तुलसी की माला समेत लाखों रुपये के जेवर और 27 लाख नकदी ठगी। पुलिस ने उसी दिन आरोपित को उसके लालतप्पड़ स्थित आवास से गिरफ्तार कर लिया था। यहां से पुलिस को करीब नौ लाख रुपये के आभूषण मिले थे, इनमें से कुछ आभूषण आरोपित ने पहने हुए थे। तीन दिन पहले पुलिस ने अदालत से आरोपित का रिमांड हासिल किया था।

      पुलिस अधीक्षक देहात स्वतंत्र कुमार सिंह ने बताया कि इन तीन दिनों में पुलिस आरोपित को उसके देहरादून, दिल्ली, पानीपत और करनाल स्थित ठिकानों पर लेकर गई। यहां से उसकी निशानदेही पर व्यापारी की पत्नी से ठगे गए करीब 72 लाख रुपये कीमत के जेवर बरामद किए गए हैं। एसपी ने दावा किया कि व्यापारी की पत्नी से ठगे गए सभी जेवर बरामद कर लिए गए हैं।
27 लाख नकद कार में खर्च किए।

       पुलिस उपाधीक्षक डीसी ढौंडियाल ने बताया कि व्यापारी की पत्नी से फर्जी बाबा ने करीब 27 लाख रुपये नकदी भी ठगी थी। जांच के बाद पता चला है कि इस रकम से उसने अपने दोस्त के नाम पर एक सेकंड हैंड ऑडी कार खरीदी। उसने अपने दोस्त के नाम पर खरीदी है। कार की अभी बरामदगी नहीं हुई है। उनका कहना है कि इस मामले में अभी किसी अन्य व्यक्ति की संलिप्तता सामने नहीं आई है।

Share this story