उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

लोक निर्माण मंत्री श्री सतपाल महाराज ने जनपद पौड़ी एवं उनके विधानसभा क्षेत्र की विकास कार्यों की ली समीक्षा बैठक
लोक निर्माण मंत्री श्री सतपाल महाराज ने जनपद पौड़ी एवं उनके विधानसभा क्षेत्र की विकास कार्यों की ली समीक्षा बैठक
पौड़ी।  विकास भवन सभागार पौड़ी में रविवार को साय प्रदेश के लोक निर्माण, पर्यटन, संचाई, लघु सिंचाई, संस्कृति, जलागम प्रबंधन, बाढ़ नियंत्रण और भारत नेपाल उत्तराखंड नदी परियोजना मंत्री श्री सतपाल महाराज ने जिलाधिकारी डा0 विजय कुमार जोगदण्डे एवं मुख्य विकास अधिकारी प्रशांत कुमार आर्य व संबंधित अधिकारियों के जनपद पौड़ी एवं उनके विधानसभा क्षेत्र की विकास कार्यों की समीक्षा बैठक ली।
    इससे पूर्व मा0 मंत्री ने पौड़ी की सड़कों का निरीक्षण किया। कहा कि पर्यटकों की आवाजाही के लिए पौड़ी की सडक सुगम है। कुछ स्थानों में सड़क को सुविधाजनक बनाने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किये गये है। आयोजित बैठक में सड़क की समीक्षा के दौरान मा0 मंत्री ने सड़क से जुडी सभी रेखीय विभाग के आला अधिकारियों को कड़ी निर्देश दिये कि 10 दिन के भीतर सड़क के दोनों तरफ झाडियां, काटना सुनिश्चित करेंगे। जिससे आम जनमानस को उसका लाभ मिल सकेगा। साथ ही उन्होंने वन विभाग की स्वीकृति से लंबित सड़कों की जानकारी भी ली। उन्होंने  जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में पीएमजीएसवाई की सड़कों पर उन्होने खासी नाराजगी जताई तथा गुणवत्ता में सुधार न लाने पर जांच की हिदायत विभागी अधिकारियों को दी। उन्होने आवादी वाले क्षेत्र के वनों में बाघ की खतरा को दृष्टिगत रखते हुए प्रभागीय वनाधिकारी को झाडियॉ कटवाने के निर्देश दिये। 
    मा0 मंत्री ने पेयजल की समीक्षा के दौरान कहा कि जल जीवन मिशन के तहत जिन गांवों में पेयजल लाइन नहीं पहुंची है वहां प्राथमिकता के आधार पर कार्य करें, जिससे ग्रामीणों को समय पर पेयजल उपलब्ध हो सकेगा। वहीं मंत्री ने कहा कि चारधाम यात्रा शुरु करने का मामला कोर्ट में चल रहा है, कोर्ट से निर्णय आने के बाद आगे की योजना तैयार की जाएगी। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित किया कि कुमाऊं-गढ़वाल को जोड़ने वाले जो भी मार्ग क्षतिग्रस्त होते हैं, उन्हें तत्काल ठीक करवाना सुनिश्चित करें। इस दौरान उन्होंने सतपुली के तहत देवराजखाल-खेडगांव मोटर मार्ग पर जहां भी मोड़ हैं उन्हें दुरस्त करने के निर्देश विभागीय अधिकारी को दिए।
 
     उन्होंने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित किया कि देवलगढ़ मोटर मार्ग हेतु सुधारीकरण करना सुनिश्चित करें, जिससे उस मार्ग पर बड़े वाहन भी आवाजाही कर सकेंगे। मंत्री ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित किया कि गुमखाल-सतपुली मोटर में कुछ स्थानों पर पानी रूक रही है, मानक के अनुरूप नाली बनाकर पानी की निकासी करें, साथ ही सड़क को सुविधा जनक बनाया जाय। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिन सड़कों पर मोबाइल नेटवर्क की समस्या है वहां चिन्हित कर नो सिग्नल के बोर लगाएं जिससे उस मार्ग पर गुजरने वाले लोगों को पता चल सके कि आगे नेटवर्क नहीं है, इसके साथ ही निर्देशित किया कि सड़कों के किनारे गांवों की दूरी व नाम को निर्देशित करने वाले के बोर्ड लगाये।
    पर्यटन विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होने टीआरएच एवं अन्य कार्यो की जानकारी लेते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिये। कहा कि जनपद में जो पर्यटक हाउस अधूरे पड़े हैं उन्हें भी जल्द पूर्ण करना सुनिश्चित करें, जिससे बाहर से आने वाले पर्यटक हिमालय की लुफ्त उठा सकेंगे। साथ ही उन्होंने सतपुली में प्रस्तावित को पहाड़ी शैली में विकसित करने के निदेश भी दिए। जिला पर्यटन विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि होटल्स, होमस्टे में डब्लू सी की जानकारी उपलब्ध कराये, साथ ही होटल के बाहर जानकारी का बोर्ड लगवाएं जिससे पर्यटकों को होटल्स होमस्टे में खाली कमरों की स्थिति, टॉयलेट तथा उनमें मिल रही सुविधाओं की जानकारी मिल सके। साथ ही उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिन बिदुंओं पर चर्चा हुई है उसकी रिपोर्ट उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। कहा कि कोविड की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए सरकार ने सभी व्यवस्थाएं पूर्ण कर ली है। उन्होंने जनपद स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो भी फरियादी अपनी समस्याओं को लेकर कार्यालय  आते हैं प्राथमिकता से उनकी समस्या का निराकरण करें। 
      मा0 मंत्री ने कहा कि काश्तकारों को जल्द ही मुवावजा दे दिया जाए तथा विभागों में खाली पदों से कार्य करने मे हो रही दिक्कतों उसके लिए अधियाचन बनाकर शीघ्र भेजे। कहा कि प्रदेश सरकार के द्वारा बड़े स्तर पर खाली पदों को भरने का अभियान चलाया जा रहा है। कहा कि निर्मित होने वाली सड़कों को इस तरह बनाएं की रूट छोटे बने। कहा कि पहले उन सड़कों को प्राथमिकता पर रखें जिनमें अधिकांश कार्य हो चुका है। 
    जिलाधिकारी डॉ. जोगदण्डे ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि बैठक में मा. मंत्री जी द्वारा निर्देश दिए गए हैं पर तत्काल कार्रवाई करना सुनिश्चित करें, जिससे आम जनमानस को उसका लाभ समय पर मिल सकेगा। साथ ही कहा कि जो कार्य प्रगति पर हैं उनका कार्य जल्द पूर्ण करना सुनिश्चित करें। 
    इस  अवसर पर एकेश्वर के क्षेत्र प्रमुख नीरज पांथरी, डीएफओ मुकेश कुमार, डीएफओ सिविल सोहन लाल,  लोनिवि के मुख्य अभियंता एजाज अहमद, लोनिवि के अधीक्षण अभियंता राजेश चंद्र, जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिह नेगी, डीईओ बेसिक के एस रावत, डीपीआरओ एम एम खान, अधीक्षण अभियंता प्रवीण सैनी, स्वजल अधिकारी दीपक रावत, अधिशासी अभियंता जल संस्थान संजीव कुमार रॉय, स0अ0 जी. एस. कॉण्डल, म0अ0 महिपाल सिह नेगी, बृजमोहन रावत, सतराज सिह नेगी, वेद प्रकाश वर्मा, सोबन सिह रावत, शैलेन्द्र दर्शन सहित अन्य अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। 

Share this story