उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

चारधाम यात्रा: यात्रा मार्ग पर दिखने लगी रौनक
Uttarakhand Herald

चमोली। चारधाम यात्रा शुरू के बाद धीरे-धीरे ही सही यात्रा पथ पर कुछ चहल पहल दिखने लगी। एक लम्बे इंतजार के बाद व्यवसाइयों के प्रतिष्ठानों पर यात्रियों के रूप में ग्राहकों के आवागमन से रौनक दिख रही है। केदार दर्शन कर यात्री चोपता से होते हुये गोपेश्वर से गुजरते हुये चमोली से बदरीनाथ की ओर बढ़ रहे हैं। चोपता , मंडल के बीच सुन्दर प्राकृतिक दृश्यों को देख कर यात्री अविभूत हैं ।

     हाईकोर्ट नैनीताल की रोक हटाने के बाद शनिवार से शुरू हुई चारधाम यात्रा के तहत बदरीनाथ, हेमकुंड यात्रा पर धीरे-धीरे रौनक शुरू होने लगी है। रविवार को बदरीनाथ धाम के लिए हेली सेवा भी शुरू हो गयी है। इस हेलीकॉप्टर से 6 तीर्थ यात्रियों ने बदरीनाथ धाम में दर्शन किए। हैरिटेज एविशन के कार्डिनेटर विकास जुगरान ने बताया कि हेलीकॉप्टर से बदरीनाथ आ रहे यात्री अपने साथ डब्बल डोज वैक्सीनेशन व 72 घंटे पूर्व की गयी आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट लेकर आ रहे हैं।

     चारधाम यात्रा से चाय से लेकर चौपर ( हवाई ) सेवा के माध्यम से कई लोगों का रोजगार जुड़ा है। इस यात्रा पर पांडुकेश्वर के चाय पकौड़ी के दुकानदार कहते हैं कि यात्रियों के आने से हमारा भी रोजगार चलेगा। इसी तरह रुद्रनाथ के पैदल मार्ग पर खच्चर सुविधा की सेवा दे रहे जीत सिंह कहते कि सडक़ से अलग तीर्थ मंदिरों के दर्शन के लिये यात्रियों के आने से दो चार रुपये हमें भी मिल जाते हैं।

     चारों धामों में बढ़ रही तीर्थ यात्रियों की संख्या- चारों धामों में आज अपराह्न तक 1267 तीर्थ यात्री पहुंचे। जिसमें से श्री बदरीनाथ धाम में 368, श्री केदारनाथ धाम 536 तीर्थ यात्रियों ने दर्शन किए। श्री गंगोत्री में 275 तथा यमुनोत्री धाम में 88 तीर्थ यात्रियों ने दिन तक दर्शन किए। गोविंद घाट गुरुद्वारा से सरदार सेवा सिंह ने देवस्थानम बोर्ड को बताया कि पवित्र गुरूद्वारा हेमकुंड साहिब लोकपाल तीर्थ में आज 72 श्रद्धालु मत्था टेकने पहुंचे।

ये है श्रद्धालुओं की निर्धारित संख्या-

      श्री केदारनाथ धाम में प्रतिदिन 800(आठ सौ), बद्रीनाथ धाम में 1000, गंगोत्री में 600, यमुनोत्री धाम में कुल 400 श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति प्रदान की गयी है।
रजिस्ट्रेशन अनिवार्य- चारधाम यात्रा को उत्तराखंड से बाहर के श्रृद्धालुओं को देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल http://smartcitydehradun.uk.gov.in में रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है। ई पास को देवस्थानम बोर्ड की वेबसाइट www.devasthanam.uk.gov.in या http:// badrinah-Kedarnath.uk.gov.in प्रत्येक श्रद्धालु को कोविड नेगेटिव रिपोर्ट अथवा वैक्सीन की डबल डोज लगी होने का सर्टिफिकेट जमा करना है। उत्तराखंड प्रदेश के लोगों को स्मार्ट सिटी पोर्टल में पंजीकरण की आवश्यकता नहीं है।

    केदारनाथ के लिए रविवार को 774 यात्री हुए रवाना- केदारनाथ यात्रा को लेकर जहां भक्तों में खुशी है। वहीं यात्रा मार्ग पर भी रौनक बढ़ गई है। रविवार को भी सोनप्रयाग से सांय 4 बजे तक 774 यात्री केदारनाथ धाम के लिए रवाना हुए। वहीं बाहरी प्रदेशों के साथ ही स्थानीय लोगों में भी केदारनाथ जाने को लेकर उत्साह देखा जा रहा है। केदारनाथ धाम की यात्रा शुरू होते ही बड़ी संख्या में यात्री केदारनाथ धाम की ओर आने लगे हैं। शनिवार को पहले दिन ही 285 तीर्थयात्रियों ने दर्शन किए। जबकि रविवार को यह संख्या इससे अधिक रही। मौसम साफ होने के कारण यात्री लगातार केदारनाथ धाम के लिए प्रस्थान कर रहे हैं। वहीं केदारनाथ में कोविड नियमों का पालन करते हुए यात्रियों को दर्शन कराए जा रहे हैं।

पुलिस-प्रशासन की है पूरी नजर-

    बदरीनाथ और हेमकुंड आने वाले यात्रियों की निर्धारित संख्या और जारी एसओपी के पालन कराने के लिए पुलिस , प्रशासन , और स्वास्थ्य महकमें की पूरी नजर है। गौचर से लेकर पांडुकेश्वर में कोविड जांच की व्यवस्था की गई है। जगह-जगह पर प्रपत्र भी देखे जा रहे हैं। सीएमओ डा. केके अग्रवाल ने बताया बदरीनाथ और गोविन्द घाट में हेल्थ फोर्स भी तैनात की गई है।

डीएम ने किया स्थलीय निरीक्षण-

    जिला अधिकारी हिमाशु खुराना और पुलिस अधीक्षक यशवन्त सिंह चौहान ने यात्रा शुरू होने से पहले बदरीनाथ हाईवे पर एनएच के अधिकारियों के साथ स्थलीय विजिट की । जिला अधिकारी ने हर वक्त सडक़ को चौकस और सुचारु रखने के निर्देश एनएच के आधिकारियों को दिये। पर आल वेदर सडक़ निर्माण के कारण अभी सडक़ कुछ समय के लिये बाधित हो रही है। रविवार को कर्णप्रयाग के समीप हाईवे कुछ समय के लिए बाधित रहा।

Share this story