उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

उत्तराखंड चुनाव को लेकर कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी ने फ्रंटल संगठनों के साथ की बैठक
uttarakhand herald

नई दिल्ली। उत्तराखंड में चुनावी तैयारी में जुटी कांग्रेस ने उम्मीदवारों के चयन के लिए पार्टी की अनुषांगिक शाखाओं से उनके उम्मीदवारों की सूची मांगी है।

    पार्टी ने उम्मीदवारों के चयन में यूथ कांग्रेस, एनएसयूआई, महिला कांग्रेस, सेवा दल और अन्य जैसे फ्रंटल संगठनों से भी सहयोग लेने की रणनीति बनाई है। पार्टी नेताओं की मानें तो चुनावी राज्यों में कांग्रेस को फ्रंटल संगठनों के बीच समन्वय को मजबूत करने की आवश्यकता है। इसी संबंध में उत्तराखंड स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में इन संगठनों को प्रमुख को बुलाकर उनसे चर्चा की गई।

     हालांकि इस संबंध में उत्तराखंड स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष अविनाश पांडे ने कहा कि सभी फ्रंटल संगठनों से चर्चा की गई। उनसे पूछा गया कि उनकी ओर से विधानसभा चुनाव में किसी उम्मीदवार उतारा जा सकता है जो पार्टी के लिए एक बेहतर उम्मीदवार साबित हो, उन्होंने कहा कि बुधवार को उत्तराखंड चुनाव को लेकर पूरी कोर कमेटी की बैठक होगी, जिसमें सभी सदस्य मौजूद रहेंगे।

    पार्टी सूत्रों की मानें तो इस बार कांग्रेस पार्टी के लिए केवल जिताऊ उम्मीदवार ढूंढना ही चुनौती नहीं है, उम्मीदवार की विश्वसनीयता को भी परखा जा रहा है। कई मौकों पर कांग्रेस पार्टी के जीते हुए उम्मीदवार अन्य दलों में शामिल हो चुके हैं, ऐसे में पार्टी इससे बचने के लिए इस तरीके की रणनीति पर काम कर रही है।

    हालांकि उत्तराखंड प्रभारी देवेंद्र यादव के अनुसार, पार्टी दिसंबर में उत्तराखंड के उम्मीदवारों का ऐलान करने की तैयारी कर रही है। देवेंद्र यादव ने कहा, उत्तराखंड में इसलिए उम्मीदवार चुनने में हम ज्यादा समय नहीं लगाएंगे, क्योंकि इसकी तैयारी लंबे समय से की जा रही है।

   बुधवार को प्रदेश चुनाव को लेकर होने वाली ये बैठक इसलिए अहम है, क्योंकि अब तक पार्टी नेताओं से नाराज चल रहे उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत इस स्क्रीनिंग बैठक में मौजूद रहेंगे। पिछले दिनों उन्होंने दिल्ली पहुंचकर पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद कहा था कि उत्तराखंड का चुनाव हरीश रावत के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा, जिसके बाद हरीश रावत भी स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में बुधवार को शामिल होंगे।

Share this story