उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

विस चुनाव को लेकर उक्रांद ने किया अपना घोषणा पत्र जारी
ttarakhand Kranti Dal

देहरादून। उत्तराखंड क्रांति दल ने विधानसभा चुनाव 2022 के लिए अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है। उक्रांद ने खुशहाल उत्तराखंड बनाने के साथ ही सत्ता में आने पर सख्तू भू कानून लागू करने का वादा किया है।

       शनिवार को उक्रांद के केंद्रीय अध्यक्ष काशी सिंह ऐरी, संरक्षक बीडी रतूड़ी, पुष्पेश त्रिपाठी आदि ने पार्टी कार्यालय में घोषणा पत्र जारी किया। पत्रकारों से बातचीत में ऐरी ने कहा कि भाजपा सरकार ने मौज मस्ती में अपना कार्यकाल काटा। सरकार में अनुभवहीनता, अकर्मण्यता, दिशाहीनता और अहंकार भरा दम्भ दिखाई दिया। प्रचंड बहुत से सरकार ने जनहित के काम करने थे, लेकिन अहंकार से भरे होने के कारण जनता की भावनाओं और हितों पर कुठाराघात किया। ऐरी ने कहा कि भाजपा सरकार ने जनता के हितों की घोर अनदेखी की।एक के बाद एक जनता के खिलाफ निर्णय लिए। अब चुनावों में हार के डर से निर्णय धड़ाधड़ वापस लिए जा रहे हैं। जिला विकास प्राधिकरण, गैरसैंण कमिश्नरी, देवस्थानम बोर्ड इसके उदाहरण हैं। उन्होंने कहा कि सख्त भू कानून न होने से पहाड़ों की कीमती जमीनें धनाढ़्य लोगों के हाथों में जा रही है। यह राज्य की जनता के साथ सबसे बड़ा कुठाराघात है। उक्रांद यदि सत्ता में आई तो सबसे पहले सख्त भू कानून को लागू किया जाएगा। जनता वर्ष 2022 के चुनाव में भाजपा को सबक सिखाने के लिए तैयार है। उक्रांद ही एकमात्र ऐसा दल है जिसके पास उत्तराखंड के समग्र विकास का विजन है और जो उत्तराखंड को विकास की राह में ले जा सकने एवं खुशहाल प्रदेश बना सकने में समर्थ है।

       इस दौरान पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता विजय बौड़ाई के साथ ही वरिष्ठ नेता चंद्र शेखर कापड़ी, एपी जुयाल, डा. शक्तिशैल कपरूवान, किशन मेहता, ललित बिष्ट, जयप्रकाश उपाध्याय, बहादुर सिंह रावत, राजेंद्र सिंह बिष्ट, दीपक रावत,किरण रावत, राज नितिन रावत, केंद्रपाल सिंह तोपवाल आदि मौजूद रहे।

पार्टी चाहेगी तो तभी लड़ूंगा:ऐरी
उक्रांद के केंद्रीय अध्यक्ष ऐरी ने एक सवाल के उत्तर में कहा कि यदि पार्टी चाहेगी तो वे भी चुनाव मैदान में उतरेंगे। अन्यथा पार्टी प्रत्याशियों को जिताने के लिए पूरा जोर लगाएंगे। कहा कि उक्रांद सभी 70 सीटों पर प्रत्याशी उतारने की कोशिश करेगा। अभी तक 30 विधानसभा क्षेत्रों के लिए दावेदारों ने आवेदन किए हैं।

उक्रांद के चुनावी वादे
-उत्तराखंड की स्थायी राजधानी गैरसैंण में बनाएंगे
-बेरोजगारी दूर करने के लिए दीर्घकालिक नीति
-शिक्षा नीति को प्रभावी एवं रोजगारपरक बनाया जाएगा
-राज्य के हर आदमी को स्वास्थ्य सुविधा देंगे
-कृषि, बागवानी, पशुपालन, कुटीर उद्योग और पर्यटन पर फोकस
- बड़े, लघु एवं कुटीर उद्योगों को देंगे बढ़ावा
-पंचायतीराज एवं स्थानीय निकायों को मजबूती
-महिलाओं की सुरक्षा
-भ्रष्टाचार मुक्त उत्तराखंड

Share this story