उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

उत्तराखण्ड सरकार एवं हंस फाउण्डेशन की राज्य स्तरीय संचालन समिति की 8वीं बैठक सम्पन्न
Uttarakhand Herald

देहरादून। मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. सन्धु की अध्यक्षता में गुरूवार को सचिवालय स्थित उनके सभागार में उत्तराखण्ड सरकार एवं हंस फाउण्डेशन की राज्य स्तरीय संचालन समिति की आठवीं बैठक सम्पन्न हुई। बैठक के दौरान हंस फाउण्डेशन के अधिकारियों द्वारा उनके द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न कार्यों पर विस्तृत प्रस्तुतीकरण दिया गया।

      मुख्य सचिव ने कहा कि दि हंस फाउण्डेशन, सरकार द्वारा आमजन को उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं के गैप को भरने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि ऐसे सभी विभाग जो दि हंस फाउण्डेशन के सहयोग से विभिन्न योजनाएं चला रहे हैं, विभागीय स्तर पर समितियों का गठन कर नियमित अंतराल पर बैठकें आयोजित करके उन गैप्स को भरने का काम करें जिनमें अभी तक सरकार की ओर से आमजन को सुविधाएं उपलब्ध कराने में सफल नहीं हो पाई हैं।

      उन्होंने कहा कि किसी भी क्षेत्र में किसी नई योजना को शुरू करने से पहले इस पर विचार किया जाए। पेयजल, स्वास्थ्य आदि में विभिन्न ऐसी योजनाएं हैं, जो छोटे-छोटे कारणों से ठप्प पड़ी हैं, इनको रिपेयर करके या रिस्टोर करके दुरूस्त किया जा सकता है। मुख्य सचिव ने अधिकारियों को दि हंस फाउण्डेशन के समक्ष योजनाओं के क्रियान्वयन में आ रही समस्याओं को लगातार संवाद करते हुए निस्तारित करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि आवश्यकता पर आधारित योजनाएं बनाई जानी चाहिए।

     उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन क्षेत्रों में सरकार किसी भी कारण से सुविधाएं उपलब्ध कराने में सफल नहीं हो पा रही हैं, उन क्षेत्रों में दि हंस फाउण्डेशन के सहयोग से योजनाओं का क्रियान्वयन किया जाए। मुख्य सचिव ने दि हंस फाउण्डेशन को जनकल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में राज्य सरकार द्वारा हर प्रकार के सहयोग का आश्वासन दिया।

      दि हंस फाउण्डेशन के अधिकारियों ने बताया कि फाउण्डेशन द्वारा स्वास्थ्य के क्षेत्र में मेडिकल मोबाईल यूनिट, इंटेंसिव केयर यूनिट, मैमोग्राफी वैन एवं हंस बाल आरोग्य कार्यक्रम जैसे विभिन्न कार्यक्रम चलाए रहे हैं। शिक्षा के क्षेत्र में स्मार्ट क्लासेस एवं 95 मॉडल स्कूलों का आधुनिकीकरण के साथ ही आंगनवाड़ी केन्द्रों का निर्माण एवं पेयजल योजनाओं जैसे कार्यक्रम भी संचालित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि दि हंस फाउंडेशन राज्य के विकास में हर सम्भव सहायता देने को तैयार है।

     इस अवसर पर सचिव श्री अमित नेगी, श्री आर. मीनाक्षी सुन्दरम, श्री शैलेश बगोली एवं श्री सचिन कुर्वे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Share this story