उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

देश के केंद्रीय विवि में एक ही प्रवेश परीक्षा से होंगे दाखिले
Herald

नई टिहरी। एचएनबी गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय बादशाहीथौल टिहरी परिसर निदेशक प्रो एए बौड़ाई ने अवगत कराया कि सत्र 2022-23 में देश के सभी 44 केन्द्रीय विश्वविद्यालयों में स्नातक कक्षाओं के प्रथम सेमेस्टर में प्रवेश अब मेरिट के आधार पर नहीं बल्कि कामन प्रवेश परीक्षा के माध्यम से होंगे।

परिसर निदेशक बौड़ाई ने भारत सरकार एवं कुलपति गढ़वाल विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो अन्नपूर्णा नौटियाल के दिशा निर्देशों के अनुपालन करते हुये देश के सभी केन्द्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश परीक्षा के प्रचार-प्रसार के लिए परिसर में एक बैठक भी आयोजित की और बैठक में विभिन्न माध्यमों से प्रथम बार आयोजित होने वाली स्नातक प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा के प्रचार प्रसार पर चर्चा की। अब देश के जाने-माने केन्द्रीय विश्वविद्यालयों में स्नातक प्रथम वर्ष में प्रवेश मेरिट के आधार के स्थान पर प्रवेश परीक्षा के माध्यमों में होगा। इससे 96-97 प्रतिशत अंको के साथ इण्टर परीक्षा पास करने वाले छात्रों को देश के नामी विश्वविद्यालयों में प्रवेश नहीं मिलता था, लेकिन कामन प्रवेश परीक्षा से अब सभी छात्र-छात्राओं के लिए प्रवेश परीक्षा के माध्यम से समान अवसर प्रदान किया जा रहा है। जिससे मेधावी एवं कम अंक प्राप्त छात्र भी जेएनयू, दिल्ली, बनारस, इलाहबाद, जामिमाइस्लामिक सहित सभी 44 केन्द्रीय विवि जैसे देश के सभी श्रेष्ठ विश्वविद्यालयों एवं उनसे सम्बद्धता प्राप्त महाविद्यालयों में प्रवेश पा सकेंगे।

प्रो बौड़ाई ने बताया कि प्रवेश परीक्षा के प्रचार-प्रसार हेतु परिसर में पांच टीमों का गठन किया गया जो विभिन्न इण्टर कालेजों में जाकर प्रवेश परीक्षा के विषय में छात्र-छात्राओं शिक्षकों, प्रधानाचार्य एवं अभिभावकों को जानकारी देगें। टीमें 28 अप्रैल को जीआईसी गजा, 30 अप्रैल को जीजीआईसी घनसाली, जीजीआईसी लम्बंगांव व जीआईसी थत्यूड़ और 2 मई को चिन्यालीसौड जीआईसी में जाकर कामन प्रवेश परीक्षा को लेकर जानकारी देगी।

Share this story