उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

पीएम मोदी के त्रिपुरा दौरे से पहले बीएसएफ अलर्ट, भारत-बांग्लादेश सीमा पर बढ़ाई गई सुरक्षा
herald

नई दिल्ली।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के त्रिपुरा दौरे से पहले सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद कर दी गई है। राज्य सरकार की तैयारी के अलावा भारत-बांग्लासदेश सीमा पर भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। बॉर्डर पर सीमा अतिरिक्त सुरक्षा बल की तैनाती कर दी गई है। प्रधानमंत्री मोदी 4 जनवरी को त्रिपुरा का दौरा करेंगे। प्रधानमंत्री अपने इस दौरे पर राजधानी अगरतला में महाराजा बीर बिक्रम एयरपोर्ट के एक नए टर्मिनल का उद्घाटन करेंगे और फिर एक जनसभा को संबोधित करेंगे। इस दौरान उनके साथ आला-अधिकारी भी मौजूद रहने वाले हैं।

   बीएसएफ की 120 बटालियन के कमांडेंट रत्नेश कुमार ने कहा, ‘जब भी वीवीआईपी लोगों का दौरा होता है, तो कोई अप्रिय घटना न हो इसके लिए सतर्कता बढ़ा दी जाती है। इलाकों में गश्त भी बढ़ा दी गई है।’
भारतीय जनता पार्टी के सूत्रों ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री अगरतला के स्वामी विवेकानंद स्टेडियम में एक जनसभा को संबोधित करेंगे। नए टर्मिनल भवन के उद्घाटन के साथ, महाराजा बीर बिक्रम एयरपोर्ट अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट्स की सूची में शामिल देने वाला है।

    गौरतलब है कि त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देव ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 4 जनवरी को महाराजा बीर बिक्रम एयरपोर्ट के एक नए टर्मिनल भवन का उद्घाटन करने के लिए त्रिपुरा आएंगे।
सीएम देव ने कहा कि केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के वरिष्ठ अधिकारी भी कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे। नये एकीकृत टर्मिनल इमारत (एनआईटीबी) का निर्माण 3,400 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है।

    त्रिपुरा के मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं से कहा, ‘मुझे प्रधानमंत्री कार्यालय से एक फोन आया है, जिसमें एमहाराजा बीर बिक्रम एयरपोर्ट के नए टर्मिनल भवन का उद्घाटन करने के लिए प्रधानमंत्री के त्रिपुरा दौरे की पुष्टि की गई, जो पूर्वोत्तर में दूसरा सबसे व्यस्त है। इसके अलावा, वह उसी दिन विवेकानंद मैदान में एक रैली को भी संबोधित करेंगे।’

    इससे पहले एएआई के अध्यक्ष अरविंद सिंह ने 15 दिसंबर को टर्मिनल इमारत में किए जा रहे कार्यों की प्रगति की समीक्षा के लिए राज्य का दौरा किया था। अधिकारियों ने कहा कि 20 चेक-इन काउंटरों के साथ एनआईबीटी एक दिन में अंतरराष्ट्रीय यात्रियों सहित 1,200 यात्रियों को संभालने में सक्षम होगा।

Share this story