उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

महंगाई और बदहाल स्वास्थ्य सेवा को लेकर प्रदर्शन
महंगाई और बदहाल स्वास्थ्य सेवा को लेकर प्रदर्शन

अल्मोड़ा। पहाड़ में बदहाल स्वास्थ्य सेवा और महंगाई के खिलाफ गुरुवार को आवाज गूंजती रही। इलाज के अभाव में दो महिलाओं की मौत का मामला जहां जोरशोर से उठा। वहीं कलक्ट्रेट पहुंचकर लचर चिकित्सा व्यवस्था से छुटकारा दिलाने के लिए सीएम को ज्ञापन भेजा गया। कांग्रेसी आसमान छूती कीमतों के खिलाफ सडक़ पर उतर आए और प्रदर्शन किया। डबल इंजन सरकार का पुतला फूंक आमजन को महंगाई की आग में झुलसाने का आरोप लगाया।

         उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी (उपपा) की महिला शाखा ने बदहाल स्वास्थ्य सेवा पर गुरुवार को कलक्ट्रेट तक शांति मार्च निकाला। देवायल (सल्ट ब्लॉक) की मंजू देवी व धारचूला (पिथौरागढ़) की सुधा दत्ताल की उपचार के अभाव में मौत पर राज्य सरकार को घेरा। आरोप लगाया कि कोरोनाकाल में बड़ी संख्या में लोग सरकार की स्वास्थ्य सेवाओं के बाजारीकरण का शिकार हुए हैं। यह भी कहा कि सरकार का ध्यान चिकित्सालयों के नाम पर कमीशन पर टिका पड़ा है।

       वरिष्ठ नेता आनंदी वर्मा ने कहा कि पूर्व में संग्रहालय प्रभारी मंजू तिवारी की मौत भी लापरवाही के कारण हुई थी। इसी तरह गर्भवती आशा देवी समेत तमाम महिलाएं लचर व्यवस्था के आगे दम तोड़ गई। अफसोस जताया कि सरकार अब भी नहीं चेत रही। एडीएम बीएल फिरमाल को ज्ञापन दे चेताया कि यदि स्वास्थ्य सेवा में सुधार न हुआ तो आंदोलन छेड़ेंगे। इस दौरान सरिता मेहरा, हीरा देवी मीना देवी, वंदना कोहली, लीला आर्या, रेशमा, शबाना, किरण देवी सोनिया आदि मौजूद रहीं।

Share this story