उत्तराखंड हेराल्ड

Breaking news, Latest news Hindi, Uttarakhand & India

जिला जल एवं स्वच्छता समिति की बैठक आयोजित की
o

उत्तराखंड हेराल्ड/ देहरादून।

ऋषिपर्णा सभागार कलैक्ट्रेट में मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल की अध्यक्षता में जल जीवन मिशन के अन्तर्गत जिला जल एवं स्वच्छता समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने कार्यों की प्र्रगति की समीक्षा करते हुए पूर्व बैठकों में दिए गए निर्देशों के परिपालन की जानकारी प्राप्त की गई। उन्होंने विलेज वाटर सेनिटेशन समिति/पानी समिति की बैठक ना होने पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए जिला पंचायतराज अधिकारी एवं अधिशासी अभियन्ता पेयजल निगम को रोस्टरवार कार्यक्रम तैयार करते हुए विलेज वाटर सेनिटेशन समिति/पानी समिति की बैठक करते हुए कृत कार्यवाही से अवगत कराने के निर्देश दिए। उन्होंने आई.एस.ए इम्पिलिमेन्टेशन सपोर्ट एजेंसियों की संख्या तथा प्रत्येक एजेंसी को सौंपे गये क्षेत्रों का विवरण सहित उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में एफएफटी  टेस्ट की टेनिंग की जानकारी मांगने पर बताया गया प्रत्येक गांव में 05 महिलाओं को इसके लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। उन्होंने सभी सहायक अभियन्ताओं/जूनियर अभियन्ताओं को  निर्देश दिए कि ग्रामीण स्तर पर प्रत्येक गांवों की पांच-पांच महिलाओं का समूह बनाकर उनको जल शुद्धता जांचने का प्रशिक्षण दिलाएं तथा इसका स्वंय भी जाकर वस्तुस्थिति का जायजा लें। उन्होंने जल संस्थान एवं जल निगम को एफएचटीसी के तहत् कराये जाने वाले कार्यों की प्रगति के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करने पर बताया गया कि उत्तराखण्ड जल निगम 103 तथा जल संस्थान की 108 कार्यों की डीपीआर तैयार की जा रही जिसमें 87 कार्यों की डीपीआर तैयार हो गई है। मुख्य विकास अधिकारी ने निर्देश दिए कि जिन कार्यों की डीपीआर तैयार की गई उनकी सूचीवार विवरण प्रस्तुत करें तथा शेष अन्य कार्यों की डीपीआर यथाशीघ्र प्रस्तुत करें। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिए इस कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में जल जीवन मिशन के अन्तर्गत  पेयजल योजनाओं के निर्माण में ग्राम प्रधानों की सहभागिता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने जलजीवन मिशन के अन्तर्गत आच्छादित किए गये परिवारों तथा स्कूलों एवं अन्य संस्थानो की अलग-अलग निर्धारित कर सूची तैयार की जाय जिसके लिए जल संस्थान एवं जल निगम के अधिकारियों को क्षेत्र में स्थलीय निरीक्षण कर क्षेत्रीय जन सहभागिता के अनुरूप प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। बैठक में जिला विकास अधिकारी सुशील मोहन डोभाल, अधीक्षण अभियन्ता पेयजल निगम सुभाष कुमार, अधीक्षण अभियन्ता ग्रामीण जल संस्थान नमित रमोला, अधिशासी अभियन्ता जल निगम मिशा सिंह समेत जल जीवन मिशन से जुडे़ अधिकारी उपस्थित थे।

Share this story